Attitude Sad Shayari { ऐटिटूड 😔 सैड शायरी } Attitude Shayari Boy | Dard Bhari Attitude Sad Shayari 2023

Hello Dosto Bestshayaries.com Main Apka Swgat Hai:-आज हम आपके लिए Attitude Sad Shayari लेकर आए हैं, जो आपको दिल को सुकून देगी, अक्सर लोग दिल दुखा देते हैं, दूर चले जाते हैं अपनी आदत डालकर, हम अपने एटिट्यूड में भी रहना चाहते हैं और सैड भी होते हैं इस सिचुएशन में, हम आपकी भावनाओं को समझते हुए एटिट्यूड सैड शायरी का कलेक्शन लेकर आए हैं, जो आपको सुकून देगी, हमारी Attitude Shayari Boy के लिए है, चलिए हमारी इस Dard Bhari Attitude Sad Shayari को पढ़ते हैं, अगर आपको हमारी पसंद आए तो आगे भी शेयर कर देना जिससे हमको सपोर्ट मिलेगा धन्यवाद।

01.Mujhe Pata Hai Agar Jada Baat Karunga Tumse,
Toh Ulaj Jayenge Phir Tumhari Baato Se.
Main Theek Hun Mujhse Door Raho,
Main Nikal Aaya Hun Ab Lambi Rato Se.
मुझे पता है अगर ज्यादा बात करूंगा तुमसे, तो उलझ जाएंगे फिर तुम्हारी बातों से।
मैं ठीक हूं मुझसे दूर रहो, मैं निकल आया हूं अब लंबी रातो से।

ऐटिटूड  Sad Love शायरी | Attitude Love Shayari | Hindi Attitude Shayari | Attitude Sad Shayari 

02. Dil Ki Baate Ab Kehne Ko Mann Nahi Karta Suno
Ab Tumhare Sath Rehne Ko Mann Nahi Karta
Bahut Se Jakham Diye Hai Tune Jo Bharte Rahe Hain Hum
Ab Aur Jakhmo Pe Mahram Lagane Ko Mann Nahi Karta
Suno Dil Ki Baate Ab Kehne Ko Mann Nahi Karta.
दिल की बाते अब कहने को मन नहीं करता सुनो, अब तुम्हारे साथ रहने को मन नहीं करता
बहुत से जख्म दिए हैं तूने जो भरते रहे हैं हम, अब और जख्मो पे महरम लगाने को मन नहीं करता
सुनो दिल की बातें अब कहने को मन नहीं करता।

 

03. Roka Tha Jis Raste Se Gaye The Bade Shauk Se
Ab Mila Hai Dokha Kya Aa Gaye Ho Hosh Mein
Kya Kahu Tujhe Ab Mere Bas Mein Nahi Hai Kehna
Kaise Rahun Sath Tere Ab Mere Bas Mein Nahi Hai Rehna
रोका था जिस रास्ते से गए थे बड़े शौक से, अब मिला है दोखा ​​क्या आ गए हो होश में
क्या कहूँ तुझे अब मेरे बस में नहीं है कहना, कैसे रहूँ साथ तेरे अब मेरे बस में नहीं है रहना

 

किसी को जलाने की एटीट्यूड शायरी 2 line | Attitude Shayari 

04. Jinko Jo Bhi Kehna Hai Kehne Do,Hamara Kya Jaata Hai
Yeh Waqt Waqt Ki Toh Baat Hai,Aur Waqt Sab Ka Ata Hai..
जिनको भी कहना है कहने दो, हमारा क्या जाता है
ये वक़्त वक़्त की तो बात है, और वक़्त सबका आता है..

Leave a comment